Home > एनसीआर > जेएनयू विवाद में पुलिस के पास नहीं है कन्हैया के नारों का वीडियो

जेएनयू विवाद में पुलिस के पास नहीं है कन्हैया के नारों का वीडियो

नई दिल्लीः जेएनयू विवाद की शुरुआत दस फरवरी 2016 को एक वीडियो सामने आने के बाद हुई थी। इस वीडियो में एक कार्यक्रम के दौरान कई छात्र देश विरोधी नारे लगाते दिख रहे थे। वीडियो में जेएनयू के छात्र नेता नारे लगाते दिख रहे हैं, लेकिन इसमें कन्हैया कुमार नहीं है।

उसके खिलाफ केवल लोगों के बयान ही पुलिस के पास हैं। इन गवाहों ने इस बात की पुष्टि की है कि वह कार्यक्रम में था और देश विरोधी नारे लगा रहा था। आरोपपत्र में तर्क रखा गया है कि सीएसएफएल की रिपोर्ट आने में काफी देरी हुई है इसी कारण जांच में देरी हुई व आरोपपत्र देरी से दायर हुआ।

कार्यक्रम का आयोजन अफजल गुरु को फांसी दिए जाने के विरोध में नौ फरवरी को 2016 को साबरमती ढाबे के नजदीक हुआ था। वीडियो में कुछ नकाबपोश भी थे, जिनमें दो कश्मीरी छात्र मुजीब व मनीब सगे भाई हैं।

1- मुजीब (जेएनयू छात्र)
2- मुनीब (अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी)
3- उमर गुल (जामिया यूनिवर्सिटी)
4-बशारत (जामिया)
5- रईस (छात्र नहीं है)
6-आकिब- डेंटिस्ट
7- खालिद भट्ट (जेएनयू छात्र)

Leave a Reply