Home > शिक्षा > हिंदी के प्रखर आलोचक डॉ. नामवर सिंह का 93 साल की उम्र में निधन

हिंदी के प्रखर आलोचक डॉ. नामवर सिंह का 93 साल की उम्र में निधन

नई दिल्लीः हिंदी के मशहूर समालोचक और साहित्यकार डॉक्टर नामवर सिंह का निधन हो गया है। उन्होंने ने दिल्ली एम्स में मंगलवार रात तकरीबन 11.50 बजे आखिरी सांस ली। नामवर सिंह 93 साल के थे और पिछले कुछ समय से खराब सेहत की वजह से एम्स में भर्ती थे।

जानकारी के आनुसार, इसी साल जनवरी में वह अपने घर में अचानक गिर गए थे। जिसके बाद उन्हें दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों ने बताया था कि उन्हें ब्रेन हेमरेज हुआ था। लेकिन वो ख़तरे से बाहर हो गए थे और डॉक्टरों के अनुसार उनकी हालत में सुधार भी हो रहा था। परिजनों के मुताबिक लोधी रोड स्थित श्मशान घाट पर बुधवार दोपहर बाद उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

डॉक्टर नामवर सिंह का जन्म जुलाई 1926 में यूपी के चंदौली जिले के जीयनपुर गांव में हुआ था। डॉ. नामवर सिंह हिंदी साहित्य के बड़े रचनाकार हजारी प्रसाद द्विवेदी के शिष्य थे। उनकी गिनती हिंदी साहित्य जगत के बड़े समालोचकों में थी।

Leave a Reply